Pregnant (गर्भवती) होने के लिए कब करें Sex (हिंदी)

Pregnant (गर्भवती) होने के लिए कब करें Sex (हिंदी) When to get pregnant have sex in Hindi

When to get pregnant have sex in Hindi

पुरुष हो चाहे महिला, दोनों को सेक्स (Sex) की जानकारी होना बहुत जरूरी है। इससे आपके वैवाहिक जीवन पर अच्छा असर पड़ता है। हर कपल माता पिता बनने का सुख चाहता है, अगर आप भी माता पिता बनने की सोच रहे है और इसके लिए plan कर रहे है, तो आपको इससे सम्बन्धित जानकारी होनी चाहिए, जैसे – प्रेग्नेंट होने के लिए कब सेक्स करना चाहिए ? रोज़ सेक्स करना सही है या नहीं ? पीरियड्स के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए इत्यादि।

एक रिपोर्ट के अनुसार 48 प्रतिशत लोगों को कंसीव करने में डर लगता है। कपल्स के लिए pregnant होना मेहनत भरा और चुनौती का काम होता है। कुछ लोग पहले अटेम्प्ट में ही प्रेगनेंट हो जाते है, तो वहीं कुछ लोगों को इसके लिए सालो लग जाते है। प्रेगनेंसी के पीछे की बायोलॉजी को आपको समझना होगा, ताकि आप प्रेग्नेंट होने के लिए जो प्लान बना रहे है, वो सफल हो पाए। हमारी society में एक बहुत बड़ा मिथ्य (Myth) है कि सिर्फ शारीरिक सम्बन्ध बनाने से या इंटरकोर्स करने से बच्चा लग जाता है। लेकिन ऐसा नहीं होता है। यह जितना दिख रहा है, उतना सिम्पल नहीं है। इसके पीछे बहुत बड़ा साइंस काम करता है।

आज की इस पोस्ट में हम बात करेंगे कि Pregnant होने के लिए कब सेक्स करना चाहिए? साथ ही आपको बताएंगे कि आपको Pregnancy क्या होती है? और pregnant होने के लिए पीरियड्स के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए ? तो आइए बिना समय बर्बाद किए शुरू करते है, Pregnant होने के लिए कब सेक्स करना चाहिए ?

When to get pregnant have sex in Hindi

● गर्भावस्था (Pregnancy) क्या होती है ? [What is Pregnancy?]
● पीरियड्स या MC कितने दिन तक रहती है ? [How long do period or MC last?]
● प्रेगनेंट होने के लिए पीरियड्स के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए ? [How many days after the period should one have sex to get pregnant?]
● ओवुलेशन क्या होता है ? [What is Ovulation?]
● ओवुलेशन कब होता है ? [When does ovulation occur?]
● प्रेगनेंट होने के लिए कब सेक्स करना चाहिए [When should one have sex to get pregnant?]

1. समय पर सेक्स करना [Sex time for Pregnancy?]
2. ओवुलेशन चक्र [Ovulation Cycle]
3. ऑर्गेज्म [Orgasm]

गर्भावस्था (Pregnancy) क्या होती है ? [What is Pregnancy?]

गर्भावस्था यानी गर्भ में अवस्था। इस अवस्था के लिए महिलाओं के गर्भ में अंडा और शुक्राणु मिलकर भ्रूण का निर्माण करते है, जिससे महिलाओं में गर्भावस्था की शुरुआत होती है। यह भूर्णं धीरे-धीरे शिशु का रूप लेता है और 9 महीने बाद महिला बच्चे को जन्म देती है। महिलाओं में कभी-कभी एक से अधिक गर्भावस्था भी अस्तित्व में आ जाती है, जिससे एक से अधिक, जिसे जुड़वा संतान कहा जाता है की उपस्थिति होती है। गर्भधारण करने की अवस्था को ही गर्भावस्था कहा जाता है।

एक स्वस्थ महिला को हर महीने पीरियड्स आते है। गर्भ ठहरने के बाद 9 महीने तक पीरियड्स आने बंद हो जाते है। इसके साथ ही महिला को उल्टी होना, स्तनों में हल्का दर्द महसूस होना और बार – बार पेशाब आने की समस्या शुरू होती है। इस लक्षणों से आप गर्भावस्था की पहचान कर सकती है तथा आपको डॉक्टर के पास जाकर जांच भी करवानी चाहिए।

पीरियड्स या MC कितने दिन तक रहती है ? [How long does the period or MC last]

Pregnant (गर्भवती) होने के लिए कब करें Sex,When to get pregnant have sex in Hindi,pregnant hone ke liye kab kare sex, pregnant kaise ho

गर्भवती होने के लिए सेक्स करने का सही समय पता करने के लिए आपको अपनी पीरियड्स की अवधि का पता होना चाहिए। आम भाषा में लोग इसे मासिक धर्म या MC [Menstrual Cycle] भी बोलते है। एक स्वस्थ महिला में पीरियड्स 21 से 35 दिन बाद होता है और 2 से 7 दिन तक रहता है। शुरुआत में पीरियड की अवधि लंबी होती है लेकिन बढ़ती उम्र साथ यह नियमित हो जाता है।

पीरियड्स लड़कियों में 13 साल की उम्र से शुरू हो जाता है। यह आपके अंदर हार्मोन के बदलाव के कारण होता है। एस्ट्रोजेन और प्रोजेस्ट्रॉन हार्मोन पीरियड्स को नियंत्रित करते है। कुछ महिलाओं में पीरियड्स की अवधि घट या बढ़ जाती है। यानी 21 दिन के पहले और 35 दिन के बाद पीरियड्स का होना अनियमित होता है। सामान्य पीरियड्स में 400 से 500 ml रक्तस्राव होता है।

प्रेगनेंट होने के लिए पीरियड्स के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए ?

Pregnant (गर्भवती) होने के लिए कब करें Sex,When to get pregnant have sex in Hindi,pregnant hone ke liye kab kare sex, pregnant kaise ho

गर्भवती होने के लिए सिर्फ शारीरिक संबंध बनाना ही काफी नहीं होता है, जरूर ये होता है कि जिस दिन आपने सम्बन्ध बनाया अर्थात् सेक्स किया है, उस समय महिला के गर्भ में अंडा उपस्थित होना चाहिए, तभी शुक्राणु और अंडा मिलकर भ्रूण का निर्माण करेंगे।

प्रेगनेंट होने के लिए आपको दो प्रक्रियाओं को समझना होगा, एक ओवुलेशन और दूसरी फर्टाइल। जिस समय महिला के शरीर में अंडे का विकास होता है, उसे ओवुलेशन कहा जाता है और जब महिला के शरीर में कोई sperm जिंदा रहता है, उसे फर्टाइल दिन (Fertile days) कहा जाता है। ओवुलेशन का जीवनकाल अगले पीरियड्स के आने तक रहता है। पीरियड्स के आने से 1 दिन पहले ही अंडे का जीवनकाल खत्म हो जाता है, जबकि फर्टाइल दिनों का जीवनकाल 2 से 3 दिनों का होता है।

कभी कभी महिलाएं पीरियड्स के तुरन्त बाद भी प्रेग्नेंट हो जाती है। वैसे ऐसा होने की संभावना बहुत कम है, लेकिन असुरक्षित यौन सम्बन्ध बनाने के कारण प्रेगनेंसी होने की संभावना काफी बढ़ जाती है। प्रेग्नेंट होने के लिए पीरियड्स के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए, यह सवाल हर नवविवाहित जोड़े के मन में होता है। महिलाओं में हर महीने यानी 28 या 30 दिन में पीरियड्स आते है। इसके अलावा यह सलाह दी जाती है कि हफ्ते में 2 से 3 बार संबंध बनाना चाहिए।

इसलिए आपको पीरियड्स के 5 दिन बाद सेक्स करना चाहिए। क्योंकि यह समय ओवुलेशन का होता है, और इस समय महिला के शरीर में अंडे का पूर्ण विकास हो जाता है। यदि उस अंडे को स्पर्म मिल जाता है, तो महिला गर्भवती हो जाती है।

ओवुलेशन क्या होता है? [What is Ovulation]

Ovulation in Hindi जब महिला के अंडाशय (Ovary) से अंडा परिपक्व होकर निकलता है, तो अंडे के निकलने की इस प्रक्रिया को ही ओवुलेशन (Ovulation) कहा जाता है। महिलाओं में ओवुलेशन की प्रक्रिया हर महीने होती है। ओवुलेशन में महिला को प्रेग्नेंट होने की संभावना सबसे अधिक होती है।

What is Ovulation/Ovulation in Hindi

आमतौर पर महिलाओं में पीरियड 28 से 35 दिन के बाद आता है। इस चक्र में कुछ दिन ओवुलेशन के होते है। एक महिला में सामान्य पीरियड के लगभग 7 दिन बाद का समय ओवुलेशन पीरियड कहलाता है।

ओवुलेशन कब होता है ? [When does ovulation occur]

ओवुलेशन कब होता है ? स्त्री विशेषज्ञ के अनुसार, जन्म के समय महिलाओं के अंडाशय (Ovary) में करीब 2 करोड़ अंडे होते है और युवावस्था आते-आते यानी जब महिलाओं में पीरियड होना शुरू हो जाते है, तब अंडों की संख्या घटकर केवल 5 लाख रह जाती है। हर महीने पीरियड चक्र के पहले भाग में अंडा विकसित होता है और धीरे-धीरे यह अंडा परिपक्व होने लगता है। पीरियड खत्म होने के लगभग 5 से 7 दिनों के बाद महिलाओं के शरीर में एस्ट्रोजन हार्मोन बनना शुरू हो जाता है।

यह हार्मोन युरीट्स की लाइनिंग को मोटा बनाता है, जिससे पुरुष के शुक्राणुओं के लिए एक अनुकूल वातावरण बन जाए। जब अंडाशय (Ovary) से अंडा परिपक्व होकर बाहर निकलता है, उस वक्त अगर अंडे को स्पर्म मिल जाता है और स्पर्म अंडे के साथ मिलकर निषेचन कर लेता है, तब महिला गर्भ धारण कर लेती है यानी गर्भवती (Pregnant) हो जाती है और यदि अंडा फर्टिलाइज नहीं हो पाता है, तो यह यूरिट्स की लाइनिंग में शामिल हो जाता है और पीरियड आने पर महिला के शरीर से बाहर निकल जाता है। यदि अंडे को स्पर्म निषेचन नहीं कर पाता है, तो उस स्थिति में यह प्रक्रिया दोबारा होती है, जो कि अगले पीरियड्स के शुरू में होती है।

नोट :- महिला के गर्भवती होने के लिए जरूरी है कि फर्टिलाइजेशन ( अंडाशय से निकलने के बाद अंडे और स्पर्म के प्रजनन मार्ग में रहने वाले 7 दिन) में ही आप सेक्स करें। इसमें ओवुलेशन वाले दिन और उसके बाद के 3 दिन सबसे अच्छे होते है।

प्रेगनेंट होने के लिए कब सेक्स करना चाहिए [When should one have sex to get pregnant?]

प्रेग्नेंट होने के लिए कब सेक्स करना चाहिए ? प्रेग्नेंट होने के लिए कब करें सेक्स ? आदि सवाल आपके मन आते होंगे। आज की युवा पीढ़ी में सेक्स को लेकर जानकारी बढ़ने लगी है, तो कुछ लोगो को पता ही नहीं होता है कि संतान उत्पत्ति के लिए सेक्स कब करना चाहिए। शादी करने के बाद भी कुछ लड़कियों को इसके बारे में जानकारी नहीं होती है। अधिकतर लड़कियां शर्म के कारण इस बारे में किसी से बात भी नहीं करती है। इसलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको यह जानकारी देंगे की प्रेग्नेंट होने के लिए कब सेक्स करना चाहिए ?

1. समय पर सेक्स करना [Sex time for Pregnancy?]

गर्भवती होने के लिए जितना जरूरी सेक्स करना होता है, उतना ही जरूरी यह जानना कि सेक्स कब किया जाए । पुरुषों में शुक्राणु हमेशा एक समान रहते है, जो किसी महिला को गर्भवती कर सकते है। लेकिन महिलाओं के शरीर में एक समय निश्चित होता है, जिसे पीरियड्स की अवधि कहा जाता है। यदि आप इस अवधि की पहचान करके उस समय सेक्स करे, तो ज्यादा संभावना होती है कि गर्भधारण हो जाए यानी महिला प्रेग्नेंट हो जाए।

डॉक्टर के अनुसार, एक सामान्य महिला में 28 दिन के बाद मासिक धर्म (Period) आता है और पीरियड के लगभग 7 दिनों बाद का समय ओवुलेशन का होता है। इस दौरान अगर सेक्स किया जाए, तो गर्भ ठहरता है।

2. ओवुलेशन चक्र [Ovulation Cycle]

अगर आप जल्दी प्रेग्नेंट होना चाहती है, तो आपको अपने ओवुलेशन की तारीख को फिक्स कर लेना है। ओवुलेशन चक्र सामान्यतः MC या पीरियड शुरू होने के 7 दिन बाद शुरू होता है। जैसे, अगर आपको 1 तारीख को पीरियड आता है, तो उसके 7 दिन बाद यानी 7 तारीख को ओवुलेशन का समय आता है। इस समय पर सेक्स करने से महिला के गर्भवती होने की संभावना बहुत अधिक होती है। अगर किसी महिला को अनियमित पीरियड्स की समस्या है, तो वह महिला अपने पीरियड के 13 से 15 दिन बाद सेक्स करे, तो प्रेगनेंसी की संभावना होती है।

3. ऑर्गेज्म [Orgasm]

सेक्स करते समय पुरुष केवल अपनी संतुष्टि को ध्यान में रखते है और अपने पार्टनर को संतुष्ट करना भूल जाते है। ऐसे में महिला को गर्भवती होने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। अगर स्त्री भी संभोग के समय अपने ऑर्गेज्म को पा लेती है, तो उसके गर्भवती होने की संभावना बढ़ जाती है। क्योंकि orgasm मिलने पर पुरुष के शुक्राणुओं को सही जगह जाने का वक्त और अनुकूल वातावरण मिलता है तथा स्त्री के गर्भ में शुक्राणुओं का जीवनकाल भी कुछ हद तक बढ़ जाता है। इसलिए सेक्स करते समय अपने पार्टनर के ऑर्गेज्म का भी ध्यान रखें।

इस पोस्ट Pregnant (गर्भवती) होने के लिए कब करें Sex (हिन्दी),When to get pregnant have sex in Hindi, When to get pregnant have sex में हमने आपको बताया कि गर्भावस्था क्या होती है ? पीरियड्स या MC कितने दिन तक रहती है? ओवुलेशन क्या होता है ? ओवुलेशन कब होता है ? प्रेग्नेंट होने के लिए कब सेक्स करना चाहिए? आदि बातों को बताया है।

इस पोस्ट में दी गई जानकारी आपको कैसी लगी, Comment करके जरूर बताएं और इस पोस्ट को अपने दोस्तों या अपने पार्टनर के साथ Share करें।

Follow Us On Facebook

Follow Us On Telegram

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *