कड़वा खीरा खाने के फायदे

कड़वा खीरा खाने के फायदे Kadwa Kheera khane ke fayde

खीरा गर्मियों में खाये जाने वाला पसंदीदा फल है, जिसे ज्यादातर सलाद के रूप खाया जाता है। हालांकि इसका स्वाद कई कारणों से कड़वा भी होता है, लेकिन इसके फायदे अनेक हैं।

Benefits of eating bitter cucumber in hindi,कड़वा खीरा खाने के फायदे,Kadwa Kheera khane ke fayde,kadwa kheera na khane ke nuksan,kakdi beenfit, खाली पेट खीरा खाने के फायदे,रात को खीरा खाने के नुकसान,खीरा खाने से हानि,कड़वा खीरा खाने से क्या होता है,टमाटर खाने के फायदे,बालम खीरा खाने के नुकसान,1 दिन में कितना खीरा खाना चाहिए,खीरा कड़वा क्यों होता है ,खाली पेट खीरा खाने के फायदे,रात को खीरा खाने के नुकसान,1 दिन में कितना खीरा खाना चाहिए,कड़वा खीरा खाने से क्या होता है,बालम खीरा खाने के नुकसान,खीरा खाने से हानि,खीरा खाने से शरीर में क्या फायदा होता है,खीरा कब कब खाना चाहिए?,रात में खीरा खाने से क्या होता है?,सुबह खाली पेट खीरा खाने से क्या होता है?,
कड़वा खीरा खाने के फायदे

कड़वा खीरा खाने फायदे निम्नलिखित हैं :

1. पथरी के लिए : खीरा में पानी की मात्रा सर्वाधिक होती है, जो शरीर के गंदे तत्वों को बाहर निकालने में सहायक होती है।

2. आँखों के काले धब्बे : आँखो के नीचे बने काले धब्बे को खीरा के द्वारा साफ कर सकते है, इसके लिए खीरा को घोलाकार काटकर प्रतिदिन आंख पर रखे।

3. पेशाब की जलन राहत : खीरे को पानी के साथ उबालकर उपयोग करने से पेट की गर्मी कम होती है और साथ ही पेशाब जलन में राहत मिलती है।

4. मूहांसों के लिए : खीरे के रस को पीने से चेहरे के कील मुहांसे मिट जाते है।

5. तनाव मुक्ति के लिए : खीरा एक खंडा फल है, जिसे काटकर आंखो पर रखने से शांति महसुस होती है।

6. पित्तनाशक दवा : खीरे के निरंतर सेवन से पित्त की समस्या दूर हो जाती है।

7. गर्मियों में : खीरा बीज, तरबूज बीज, खरबूज बीज, गुलाब पंखुड़ी और सौंफ को पीसकर पानी से शरबत बनाए। यह पेट की गर्मी के लिए फायदेमंद है।

8. कब्ज : पानी की 90% मात्रा के कारण कब्ज की समस्या दूर हो जाती है।

आपको यह भी पढना चाहिए – खीरा खाने के फायदे और नुकसान

आपको हमारा आर्टिकल कड़वा खीरा खाने के फायदे (Kadwa Kheera khane ke fayde ) आपको कैसा लगा Comment Box में बताना ना भूले । इसी तरह हम आपसे जुड़े रहेंगे और आपकी अच्छी सेहत की कामना करते रहेंगे । … धन्यवाद।

हमसे जुड़े Facebook पर

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *