शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय/घरेलू उपाय

शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय/घरेलू उपाय How to stop Drinking Alcohol in Hindi

शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय/घरेलू उपाय,How to stop Drinking Alcohol in Hindi,sharab pina kaise chhode, alcohal ke nuksan,nashe ka nuksan
Stop Drinking

How to stop drinking alcohol in Hindi

शराब कैसे छोडे ? शराब छुड़ाने का रामबाण उपाय How to stop Drinking alcohol in Hindi ? आज इस आर्टिकल में हम शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय के बारे में बात करेंगे और शराब से होने वाले नुकसान और फायदों के बारे में जानेंगे।

आज शराब को काफी हद तक एक सामाजिक गतिविधि के रूप में स्वीकार किया जाता है। शराब तनाव से निपटने का एक तरीका हो सकता है। यहाँ तक की चिंता और नींद ना आने जैसी समस्याओं के लिए शराब बेहतरीन उपाय माना जाता है। लेकिन शराब लंबे समय तक काम नही करती है। जिस तरह इसके तत्कालीन फायदे है, उसी तरह इसके कई गंभीर डाउनसाइड्स भी है।

शुरू में हों सकता है, आपको शराब का टेस्ट अच्छा लगे, लेकिन लंबे समय तक इसका सेवन करने पर आपको कई गंभीर बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है। जब आप कम मात्रा में शराब पीते हैं, तो आपको घबराहट, उल्टी, या भूख का अहसास हो सकता है। जितनी ज्यादा और लंबे समय तक आप शराब पीतें है, उतना ही आपके स्वास्थ्य पर नकारात्मक और गहरा प्रभाव पड़ता है।

भारत जैसे देश, जहां शराब पीना कूल माना जाता है। विशेष तौर पर युवाओं में इसका अधिक प्रचलन है। किसी भी शादी, फंक्शन या पार्टी में शराब पीना एक फैशन बन गया है। शुरू-शुरू में जब व्यक्ति शराब पीता है, तो उसे बहुत अच्छा लगता है, उसे एक अलग टेस्ट का अहसास होता है और उसे और शराब पीने की इच्छा होती है।

धीरे-धीरे शराब पीने का यह शौक व्यक्ति की आदत बन जाती है और उसे इस बारे में पता भी नही होता है। जब वह पूरी तरह शराब के जाल में फँस जाता है और स्वास्थ्य सम्बन्धी लक्षण उसे दिखाई देने लगते हैं, तब उसे समझ आता है कि वह कितनी बुरी लत में फंस चुका है।

अब व्यक्ति इस लत से बाहर निकलने के बारे मे सोचता है, लेकिन यह उसके लिए काफी मुश्किल होता है। खुद को शराब में पूरी तरह डुबोने के बाद व्यक्ति को लगता है कि अब वह इस लत से बाहर आ ही नहीं सकता। लेकिन कुछ ऐसे तरीके और सावधानियां हैं, जिन्हे अपनाकर आप इस लत से बाहर आ सकते है ।

बहुत से ऐसे लोग हैं, जो पूरी तरह शराब के जाल में फंस चुके थे, जिनके दिन की शुरुआत ही शराब से होती थी। उन्होंने इन तरीकों को अपनाया है और आज शराब की लत से पूरी तरह बाहर आ चुके हैं, तो आइये जानते है, शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय के बारे में..

शराब की लत क्यों लगती है ? [Why is Alcohol addictive in Hindi]

शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय/घरेलू उपाय,How to stop Drinking Alcohol in Hindi,sharab pina kaise chhode, alcohal ke nuksan,nashe ka nuksan

शराब की लत छोड़ने के लिए आपको शराब की लत लगने के कारण को जानना होगा। आपके आस-पास कई ऐसे लोग होंगे, जो शराब के आदि हो चुके है और कई तो ऐसे लोग भी आपको मिल जायेंगे, जो शराब पीने के लिए अपना काम तक छोड़ देते हैं, यहां तक की अपने ही लोगों के साथ झगड़ा करते हैं । आपने देखा होगा कि शराब पीने के बाद उन्हें खुशी होती हैं, एक संतुष्टि का अहसास होता है। आखिर ऐसा होता क्यों? शराब पीने वाले व्यक्ति का व्यवहार ऐसा क्यों होता है ?

एक शोध में पाया गया कि इन लोगों में एक विशेष जीन होता है, जिसके कारण लोगों को शराब की तलब लगती है PNAS की रिपोर्ट के अनुसार RASGRF2 नाम का जीन पाया गया, जो पीने की लत को प्रभावित करता है। जिन लोगों में यह जीन मौजूद नहीं होता है, उनमें शराब के प्रति इच्छा कम होती है। यह जिन डोपामाइन के लेवल को बढ़ाता है।

आपको बताते चले कि डोपामाइन एक ऐसा रसायन होता है, जो ब्रेन में खुशी को कंट्रोल करता है। इस तरह जिन लोगों में यह जीन पाया जाता है, वे लोग शराब पीने के बाद ज्यादा आनंदित महसूस करते हैं और ज्यादा शराब पीने की इच्छा रखते है। इस तरह व्यक्ति को शराब पीने में मज़ा आने लगता है और कुछ समय बाद वह शराब का आदी हो जाता है।

शराब की लत के लक्षण [symptoms of alcohol addiction in Hindi]

शराब की लत के लक्षण क्या-क्या है? शराब के नशे के लक्षण; जब व्यक्ति अधिक मात्रा में शराब का सेवन करने लगता है तो वास्तव में उसे अहसास होता है कि अब वह शराब का नहीं, बल्कि शराब उसका सेवन कर रही है । अब शराब उसका केवल शौक नही उसकी आदत बन चुकी है, जो अगर ना मिले तो व्यक्ति अपना मानसिक संतुलन खो बैठता है। जो लोग शराब पीते हैं या जिन्हें शराब की लत है, उनसे बात करके और शराब के उपर रिसर्च कर रहे विशेषज्ञों के द्वारा हमे पता चला है कि शराब की लत के निम्नलिखित लक्षण हो सकते है.

1) शराबीपन में लोग अकेले बैठकर शराब पीते हैं।

2) जिन लोगों को शराब की लत लग चुकी है, उन्हें पता ही नहीं होता है कि वे कितनी मात्रा में शराब पी रहे है।

3) शराब पीने के दौरान लोग अपना काम तक छोड़ देते है।

4) नशे की हालत में आंखों के सामने अंधकार-सा छा जाता और समय का कोई हिसाब नहीं रहता।

5) खाना खाने से पहले और खाना खाने के बाद रोज़ाना शराब पीना।

6) शराब ना मिलने पर शराब के लिए लड़ाई-झगड़े करना।

7) जिन लोगों को पूरी तरह शराब की लत लग चुकी है, उन्हें शराब का नशा महसूस नही होता है और वे और अधिक शराब पीना चाहते है।

आदि लक्षण शराब की लत के लक्षण है। अगर आपको या आपके आसपास के लोगों में ये लक्षण पाये जाते हैं, तो समझिए उन्हें शराब की लत लग चुकी हैं।

शराब पीने के नुकसान [Side effects of drinking alcohol in Hindi]

शराब पीना सेहत के लिए हानिकारक है। शराब की एक घूंट भी मानव के खून मे मिलकर निर्जलीकरण का कार्य करती है। अगर आप वसा युक्त खाने के साथ शराब पीते है या कभी-कभी शराब पीते है, तो इसका प्रभाव कम होता है, लेकिन यह शरीर में लिए बिल्कुल भी सही नहीं है। बहुत से लोग शराब का अत्यधिक सेवन करते हैं। अधिक शराब स्वास्थ्य के लिए तो हानिकारक होती ही है

साथ ही व्यक्ति के व्यवहार, रिश्ते, काम, इज्जत सबको खत्म कर सकती है। शराब शरीर के कई अंगो को डेमेज करती है। आईये जानते है, शराब पीने के नुकसान क्या है, Side effects of drinking alcohol in Hindi

1) अधिक शराब का सेवन करने के कारण आपका लीवर और यकृत खराब हो जाता है।

2) जो लोग लंबे समय से शराब पी रहे है, अगर उनके शरीर की जाँच की जाये, तो शरीर में 100 से अधिक बीमारीयों का खतरा मिल जाएगा।

3) ब्रेस्ट और ब्लड कैंसर का एक कारण शराब भी हो सकती है।

4) शराब, आँपके दिमाग के सोचने की शक्ति को कम करती है और ब्रेन पर बुरा असर डालती है।

5) अधिक शराब पीने से आप मानसिक तनाव का शिकार हो सकते हैं।

6) शराब के कारण आपके रिश्ते, आपका काम, आपका मान-सम्मान सब खत्म हो सकता है।

7) शराब के कारण व्यक्ति में यौन व्यवहार करने की कारण इच्छा बढ़ जाती है, जिससे HIV और अन्य संक्रमण वाली बीमारीयो का खतरा बढ़ जाता है।

8) शराब के नियमित सेवन के कारण व्यक्ति के लिए हृदय का खतरा काफी बढ़ जाता है।

9) लंबे समय तक शराब का सेवन करने के कारण शरीर में पर्याप्त इंसुलिन नहीं बन पाता है और व्यक्ति डायबिटिज जैसी बीमारी का शिकार हो जाता है।

10) शराब का असर आपके पाचनतंत्र पर भी पड़ता है और इससे एसिडिटी, कब्ज और गैस बनने जैसी समस्याएं होने लगती है।

शराब पीने से होने वाले साइड इफेक्ट्स को जानकर आप अंदाजा लगा सकते है कि शराब सेहत के लिए कितनी हानिकारक है।

शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय [Home remedies to quit alcohol in Hindi]

किसी भी चिज की लत आपके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकती है। शराब एक ऐसी लत होती है, जो शक्ति को शारीरिक हीं नहीं बल्कि मानसीक रूप से भी कमजोर बना देती है। कुछ लोग शराब की लत से आसानी से बाहर आ जाते हैं, तो कुछ लोगों को यह बहुत मुश्किल लगता है। शराब के कारण व्यक्ति अपना सबकुछ खो बैठता है।

अधिकतर लोगों को शराब छोड़ने का कोई तरीका नहीं मालूम होता है। ऐसे में आगे बताए गए तरीके आपके लिए काफी लाभकारी होंगे। तो आइये जानते हैं, शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय Home remedies to quit alcohol in Hindi

1. अश्वगंधा [Ashwagandha for quit alcohol in Hindi]

अश्वगंधा को पारंपरिक रूप से आयुर्वेदिक दवाओ में शराब निकालने और लालसा के लिए उपयोग किया जाता है। अश्वगंधा का पाउडर लेने से व्यक्ति के मन में शराब के प्रति इच्छा कम होने लगती है। इसके लिए आपको रोजाना एक गिलास हल्के गर्म दूध में साथ आधा चम्मच अश्वगंधा पाउडर मिलाकर लेना है । अश्वगंधा मे मौजूद एंटीइन्फ्लामेटी और एंटीऑक्सिडेंट गुण शराब की लत को छुड़ाने में असरदार होते है।

2. तुलसी के पत्तों [basil leaves for Quit alcohol in Hindi]

तुलसी के पते स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभकारी होते हैं और शराब छुड़ाने के लिए यह बेहतर तरीके से काम करते हैं। तुलसी के पत्तों में एंटी इन्फ्लामेंटी और एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं, जो कि शरीर में मौजूद गंदगी को साफ करने का काम करते है। इसलिए शराब छुड़ाने के लिए आपको प्रतिदिन तुलसी के पतो को चबाना है, इससे आपके मन में शराब पीने की तलब कम होगी।

3. अजवाइन का रस [Celery juice for alcoholism]

शराब के उपचार पर अजवाइन का तीन तरह से प्रभाव पड़ता है। सबसे पहले अजवाइन में मौजूद विटामिन-B के घटक शराब को विघटित करते है, जिससे लीवर को होने वाले नुकसान से कम किया जा सकता है। दुसरा, यह शराब के सेवन से होने वाले उच्च रक्तचाप (Blood Pressure) को नियंत्रित करता है और अंत में यह शराब की तलब को दबा देता है। इसके लिए आपको आधे गिलास अजवाइन के रस में आधा गिलास पानी को मिलाकर अच्छे से मिक्स कर लेना है और प्रतिदिन 2 बार पीना है।

4. छाछ और करेला [Butter milk and bitter Gourd]

इसे बनाने के लिए आपको 1 गिलास छाछ लेनी है और उसमें लगभग 3 से 4 चम्मच करेले के जूस को डालना है और इसे अच्छी तरह मिक्स करना है। आपको इसे रोजाना खाली पेट पीना है। आप चाहे तो छाछ को हटाकर केवल करेले का जूस भी पी सकते है। यह आपके लीवर को साफ करता है और शराब से होने वाले नुकसान से बचाता है। इसके साथ ही इसमें कई ऐसे तत्व होते है, जो शराब पीने की लालसा को खत्म करते है।

5. दृढ संकलित होना [To be determined to Quit alcohol in Hindi]

जिस तरह शराब की आदत लगने में आपको एक लंबा समय लगा था, उसी तरह शराब को छोड़ने में भी आपको 3 से 4 महिनों का समय लग सकता है। इस बीच आपको ये तरीके अपनाने के साथ-साथ दृढ़ संकल्पित भी होना जरूरी है। बिना मन में ठाने आप कोई भी काम पूरा नहीं कर सकते। अगर आप पूरी ईमानदारी के साथ इस लत को छोड़ना चाहते हैं, तो सबसे पहले दृढ़ संकल्प ले और इसके बारे में सोचना छोड़ दें। लेकिन यह एकदम से नही होगा। आपको इसे धीरे धीरे छोड़ना होगा।

अगर आप दिन में 4-5 गिलास यानी एक लीटर से भी ज्यादा शराब पीते हैं, तो आपको इसे धीरे-धीरे कम करना होगा। यानि अगर आपने आज 4 गिलास पीयें, तो कल 3 गिलास करे । ऐसे धीरे-धीरे कम करते जायें। उसके बाद शराब पीने का एक टाइम सेट करें और फिर इसे भी छोड़ दें। लेकिन इस बीच आपको अपने मन पर नियंत्रण में रखना होगा, क्योंकि मन आपको बार बार शराब पीने के लिए विवश करेगा।

ऐसे माहौल को आज ही छोड़ दे, जिसमें आपको शराब पीने के लिए कहा जाए या विवश किया जाए। शराब छुड़ाने के लिए आपको अपने परिवार और दोस्तो का सहारा लेना है। हो सकता है, कभी आपको शराब पीने की बहुत ज्यादा तलब लगे, तो उस समय आधे गिलास से भी कम मात्रा में शराब लें।

ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि जब व्यक्ति किसी चीज को मन ही मन में दबाए रखता है, तो वहीं चीज बार -बार उसके मन में आती है। इससे अच्छा है, उसे मन से बाहर निकाला जाए। आपको खुद को व्यस्त रखना है। शराब के बारे में ज्यादा ना सोचे। इस तरह कुछ दिनों के बाद आप अपने अंदर बदलाव महसूस करेंगे और आपका यही आत्मविश्वास आपको शराब छुड़ाने में मदद करेगा।

(Note – इस आर्टिकल में दी गई जानकारी को एक सूचना कि तरह ले, ना कि किसी चिकित्सक की सलाह के तौर पर। किसी भी स्वास्थ्य संबधी शिकायत के लिए डॉक्टर से परामर्श जरूर करे.)

इस आर्टिकल शराब छुड़ाने के आयुर्वेदिक उपाय/घरेलू उपाय – How to stop Drinking Alcohol in Hindi में बताई गई जानकारी आपको कैसी लगी ? Comment करके जरूर बताएं और इस पोस्ट को Social media के माध्यम को अपने दोस्तों के साथ Share करें।

Follow Us On Facebook

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *